Hong Kong Coffin Homes: हांगकांग में क्यों नरक की जिंदगी जीने को मजबूर है लोग? जानिए कैसी है यहां LIFE

0
368


दुनिया में एक से बढ़कर एक बढ़िया और सुंदर जगह मौजूद हैं. जहां कि चकाचौंध देखने के लिए अलग-अलग देशों से लोग आते हैं. इन्हीं जगहों में से एक हांगकांग भी है, जहां दूर विदेश से लोग घूमने-फिरने आते हैं लेकिन शहरों की ऊंची-चमचमाती इमारतों, सिटी लाइट (City light) और लग्जरी लाइफस्टाइल (Luxury Lifestyle of Hong Kong) के बीच वहां ऐसी जगह भी मौजूद है जिसे किसी नरक से कम नहीं समझा जा सकता है. जहां रहने वालों की जिंदगी कैसी होती है, इसका आम लोग अंदाजा भी नहीं लगा सकते. हम आपको बताएंगे कैसे दिखते हैं हांगकांग के कॉफिन होम (Coffin Home in Hong Kong).

दरअसल, हांगकांग में रहने वाला एक तबका ऐसा भी है जो कॉफिन होम में रह कर अपनी जिंदगी गुजारने के लिए मजबूर है. आपको बता दें कि यहां के बेहद छोटे, संकरे कमरों में एक ही जगह पर किचन, बेड और बाथरूम है. जानकारी के मुताबिक हांगकांग की महंगाई की वजह से बहुत सारे लोग वहां घर लेना का अपना सपना साकार नहीं कर पाते और अच्छे घरों में रहने के लिए रेंट के लिए किराया भी नहीं जुटा पाते, जिसके कारण उन्हें इन ‘माचिस की डिब्बी’ जैसे Coffin Home में रहना पड़ता है. आपको बता दें कि कई जगह 180 स्क्वायर फीट की जगह को भी कई हिस्सों में बांट दिया जाता है और उनके कमरे बनाए जाते हैं.

यहां रहते हैं लाखों लोग

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक कॉफिन होम में रहने वाले लोगों की संख्या 2 लाख के आसपास है. पैसों की तंगी के चलते और बढ़ती महंगाई के कारण लोगों को मजबूर हो कर वहां रहना पड़ता है क्योंकि सड़क किनारे वह अगर रहने के बारे में सोचें तो यह मुमकिन नहीं हो पाता क्योंकि उन्हें वहां से भगा दिया जाता है. यहां रहने वालें लोगों का कहना है कि घर बेशक छोटा हो मगर अपना हो. यहां अमूमन गार्ड, क्लीनर या वेटर जैसी कम वेतन की नौकरी करने वाले लोग रहते हैं.

यह भी पढ़ें- क्या UFO पर सवार होकर पृथ्वी घूमने आते हैं अरबपति एलियंस? अमीरों की अंतरिक्ष यात्रा के बाद उठे सवाल

सालों पुराना है Coffin Home का इतिहास

कहा जाता है कि इन कॉफिन होम्स का इतिहास (History of Coffin Home) सालों पुराना है. जानकारी के मुताबिक 1950 के दशक में कई चीनी प्रवासी काम की तलाश में यहां आए थे और रहने की जगह के अभाव के कारण यहां उनके लिए कॉफिन होम बनाए गए थे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here