बिस्कुट फैक्ट्री में काम कर बेटे को बनाया क्रिकेटर, लिये 1347 विकेट!

0
96


नई दिल्ली. क्रिकेट में कहावत है रिकॉर्ड बनते ही टूटने के लिए हैं लेकिन कुछ रिकॉर्ड ऐसे होते हैं जहां ये कहावत शायद सटीक ना बैठे. श्रीलंका के महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन का 800 टेस्ट विकेट (Muttiah Muralitharan 800 Wickets) लेने का रिकॉर्ड भी कुछ ऐसा ही है. आपको बता दें मुरलीधरन ने आज ही के दिन साल 2008 में भारत के खिलाफ इस कारनामे को अंजाम दिया था. मुथैया मुरलीधरन ने आज से 13 साल पहले 800 टेस्ट विकेट पूरे किये थे. मुरलीधरन ने अपने टेस्ट करियर की आखिरी गेंद पर विकेट झटका और इसके बाद क्रिकेट को अलविदा कह दिया. अपने 18 साल लंबे टेस्ट करियर के आखिरी दिन मुरलीधरन ने भारतीय खिलाड़ी प्रज्ञान ओझा का विकेट चटकाकर 800 टेस्ट विकेट लेने का कारनामा किया. मुरलीधरन की गेंद पर स्लिप में खड़े महेला जयवर्धने ने जैसे ही ओझा का कैच लपका उसी के साथ ही श्रीलंका को जीत मिली और मुरलीधरन को उनके करियर की परफेक्ट विदाई.

मुरलीधरन को 800 विकेट लेने में काफी कठिनाई हुई. मुरलीधरन ने भारत के खिलाफ पहली पारी में तो 63 रन देकर 5 विकेट चटकाए लेकिन दूसरी पारी में 3 विकेट लेने के लिए उन्हें 44.4 ओवर फेंकने पड़े. गॉल टेस्ट के दूसरे दिन तक ऐसा लग रहा था कि मुरलीधरन 800 टेस्ट विकेट पूरे नहीं कर पाएंगे लेकिन भारतीय बल्लेबाजों की खराब बल्लेबाजी मुरली को नहीं रोक पाई. गॉल टेस्ट के पहले दिन मुरलीधरन ने सचिन का विकेट लेकर अपने टेस्ट विकेटों की संख्या 793 कर ली. इसके बाद दूसरे दिन का खेल बारिश में धुल गया और ऐसा लगा कि मुरली अब 800 का आंकड़ा नहीं छू पाएंगे. लेकिन खेल के चौथे दिन भारत के 12 विकेट गिरे, जिसमें से 5 विकेट मुरलीधरन के खाते में गए.

ओझा का विकेट लेकर छुआ 800 विकेट का आंकड़ा

खेल के आखिरी दिन जब भारत फॉलोऑन पर था तो वीवीएस लक्ष्मण क्रीज पर टिके हुए थे और भारत के महज 2 विकेट बचे थे. वहीं मुरली को 800 का आंकड़ा छूने के लिए महज 1 विकेट चाहिए था लेकिन वीवीएस लक्ष्मण के रन आउट होने के बाद मुरलीधरन की मुश्किलें बढ़ गई. हालांकि अंत में मुरलीधरन ने प्रज्ञान ओझा को आउट कर 800 टेस्ट विकेट का बेमिसाल आंकड़ा छू लिया.

India vs County Select XI: भारत का टॉप ऑर्डर फेल, मयंक अग्रवाल- पुजारा का विकेट देख होगा अफसोस!

आपको बता दें कैंडी में जन्मे मुरली के पिता एक बिस्कुट कंपनी में काम करते थे. लेकिन इसके बावजूद उनके बेटे ने वर्ल्ड क्रिकेट में अपना नाम बनाया. मुरलीधरन ने टेस्ट में 800 और वनडे में 534 विकेट अपने नाम किये. टी20 में भी मुरलीधरन ने 13 विकेट हासिल किये. इस तरह मुरलीधरन ने अपने इंटरनेशनल करियर में 1347 विकेट हासिल किये.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here